मुस्लिम देश उठाने जा रहे हैं कड़े कदम रोहिंग्या मुसलमानों के लिए

मुस्लिम देश rohingya muslimमुस्लिम देश उठाने जा रहे हैं कड़े कदम रोहिंग्या मुसलमानों के लिए पिछले साल हुए रोहिंग्या मुसलमानों के कत्लेआम से जिससे रोहिंग्या मुसलमान अपना घर बार छोड़कर बांग्लादेश रिफ्यूजी कैंप में आकर रह रहे हैं इसमें तकरीबन 300000 रोहिंग्या मुसलमान रह रहे हैं जिसमें उन्हें भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

बर्मा फौज रोहिंग्या मुसलमानों उसके घर पर हमला करके उन सबको बर्बाद कर दिया गया और उनकी जान माल को लूट लिया गया जिससे भारी तादाद में रोहिंग्या मुसलमानों की मौत हो गई।

इसी मुद्दे को लेकर इस्लामी ऑर्गनाइजेशन के 53 देशों ने बांग्लादेश की राजधानी ढाका में बैठक की जिसमें उन्होंने रोहिंग्या मुसलमानों के लिए एक कमेटी का भी गठन किया।

जिसके बाद इस्लामी आर्गेनाईजेशन के महासचिव ने कहा कि जिस तरह रोहिंग्या मुसलमानों के साथ बर्ताव किया गया वह मानवाधिकार के खिलाफ है और इसके खिलाफ हम कदम उठाएंगे और सहयोगी देश को एक साथ जमा कर रहे हैं रोहिंग्या मुसलमानों के लिए आगे आए हैं।

मुस्लिम देश burma muslimसभी देशों को एक साथ लाया जाएगा और बर्मा के मुसलमानों के लिए कड़े कदम उठाए जाएंगे और इस मामले को जल्द से जल्द सुलझाने की कोशिश की जाएगी।

पिछले साल हुए रोहिंग्या मुसलमानों के साथ हिंसा जो बेहद दर्दनाक था रोहिंग्या मुसलमान भारी तादाद में मारे गए और कई लोग बेघर हो गए और अपनी जिंदगी को गरीबी और खराब स्थिति में गुजारने को मजबूर हो गए क्योंकि उनके पास कोई विकल्प नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *